राजभाषा से संबन्धित विद्यालय की वार्षिक गतिविधियों का विवरण

1. प्रातःकालीन प्रार्थना-सभा में तीन दिन का कार्यक्रम हिन्दी भाषा में प्रस्तुत किया जाता है |

2.प्रतिदिन हिन्दी के एक नए शब्द का प्रस्तुतीकरण ,अर्थ एवं वाक्य प्रयोग किया जाता है |

3.पाठ्य-सहगामी क्रियाकलापों के अंतर्गत आयोजित प्रतियोगिताओं , क्रमानुसार हिन्दी प्रतियोगिताओं का आयोजन जैसे वाद-विवाद,आशु भाषण ,कविता-वाचन ,कहानी वाचन ,स्वरचित-कविता मंचन ,सुलेख-लेखन ,नाटकप्रस्तुतीकरण आदि |

4.कर्मचारी उपस्थिती-पंजिका में कर्मचारियों का नामकरण द्विभाषी में किया जाता है |

5.विद्यालय में आयोजित किसी प्रकार के कार्यक्रम का फलक द्विभाषी में तैयार किया जाता है |

6.वार्षिक क्रीडा-उत्सव,विद्यालय वार्षिकोत्सव तथा विद्यालय में आयोजित किसी प्रकार के कार्यक्रम के लिए आमंत्रणपत्र द्विभाषी में तैयार किया जाता है |

7 विद्यालय में सभी कक्षाओं ,विभाग आदि के नाम पटल द्विभाषी हैं |

8 प्रार्थना सभा में नैतिक मूल्यों पर विचार-प्रस्तुतीकरण शिक्षक-शिक्षिका द्वारा हिन्दी में भी किया जाता है |

9 नामांकन प्रपत्र ,विद्यालय-दैनिकी ,कर्मचारी-डायरी ,संविदा आधार पर शिक्षक-नियुक्ति के लिए आवेदन पत्र आदि द्विभाषी हैं |

10 2.40 से 4.00 बजे अपराहन के बाद शिक्षक-शिक्षिकाओं के द्वारा अपनी अभिरुचि के अनुसार संगणक का अभ्यास लगातार किया जाता है |

11 हिन्दी प्रश्न पत्र तथा सामाजिक-विज्ञान के प्रश्न पत्र  शिक्षक संगणक के द्वारा स्वयं तैयार करते हैं |

12  सड़क- सुरक्षा पर कक्षा नौवीं और ग्यारहवीं  में आशु-भाषण का आयोजन किया गया |

13  विद्यालयपुस्तकालय बजट के अनुसार निश्चित मात्रा में पुस्तकों की खरीददारी की जाती है|

14  दैनिक समाचार पत्र-पत्रिका ,दक्षिण भारत लोकमत ,साप्ताहिक एवं मासिक पत्रिकाएँ लगातार विद्यालय पुस्तकालय में मँगवाई जाती हैं |

15  हाल ही में विद्यालय के सभी संगणक में यूनिकोड फॉन्ट अनिवार्य रूप से संलग्न हो रहा है |